Monday, March 1, 2021
  • Home
  • UTTARAKHAND
  • India
  • Sports
More
    Monday, March 1, 2021

    आम आदमी बन कर ये चतुर क्रिकेटर अब झाड़ू चलाएगा !

    राजनीति भी गजब की ताल तलैया है … इसमें उतरने वाला तैराक कब कौन सी गुलाटी मार कर दिशा बदल तैरने लगेगा पता ही नहीं चलता है। एक ऐसे ही कलाबाज़ कलाकार नेता है पंजाब के नवजोत सिंह सिद्धू ….. कभी भाजपा के नेताओं की स्तुति गान करने वाले सिद्धू समय और सहूलियत के मुताबिक अपने बयान एडजस्ट करने में माहिर हैं।

    जब सिद्धू को पंजाब में सियासत की गंगा में डुबकी लगानी थी तो उन्होंने राहुल गांधी , मैडम सोनिया को अपना कोच बना लिया और उनकी टीम में शामिल  हो गए …. लेकिन टीम सोनिया के पंजाब में कैप्टेन से सिद्धू की अंडरस्टैंडिंग नहीं बन पा रही है लिहाज़ा अब एक बार फिर कांग्रेसी सिद्धू पाला बदलने का मन बना रहे हैं … कभी कमल के लिए फायर ब्रांड रहे नेता और फिर कांग्रेस के कैबिनेट मंत्री रहे नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर राज्‍य की सियासत में खबर आ रही है कि अब इनका दिल दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की झाड़ू पर आ गया है।

    चर्चाएं अब हकीकत बनती दिख रही है कि कांग्रेस नेता सिद्धू आम आदमी पार्टी में जल्द ही शा‍मिल हो सकते हैं। पंजाब में ये खबर आम हो गयी है कि ये पूरी डीलिंग और नयी पारी का पूरा प्लान खुद उनकी पत्नी सीधे केजरीवाल से तय कर रही है। आपको बता दें कि सिद्धू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह की कैबिनेट से पिछले साल ही इस्तीफा दे  दिया था और इसके बाद से वह राजनीति में वो ज्यादा सक्रिय दिखाई नहीं दे रहे थे इस बीच सिद्धू सोशल मीडिया के जरिए ही अपनी बात अपने समर्थकों के सामने रख रहे थे। लेकिन अब हालात बदलते दिखाई दे रहे हैं।    इधर सिद्धू के आम आदमी पार्टी में शामिल होने से कांग्रेस में भी बेचैनी है। 

    नवजोत सिंह सिद्धू के आम आदमी पार्टी में शामिल होने की खबरें इसलिए जोर पकड़ रही हैं, क्योंकि बताया जाता है कि इस बार उनके और आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल के बीच प्रसिद्ध रणनीतिकार प्रशांत किशोर बात करवा रहे हैं। प्रशांत किशोर और सिद्धू की आपस में बात होने को लेकर चर्चा जोरों पर है। बताया जाता है कि सिद्धू आम आदमी पार्टी में शामिल होने से पहले अपनी भूमिका के बारे में सब कुछ स्पष्ट करना चाहते हैं। इस बारे में उन्होंने प्रशांत किशोर को साफ भी कर दिया है। दरअसल सिद्धू ऐसा इसलिए कर रहे हैं, क्योंकि जब 2017 के विधानसभा चुनाव से पूर्व उनके आम आदमी पार्टी में शामिल होने की मीटिंग चल रही थी, तो आम आम आदमी पार्टी ने उन्हें केवल प्रचारक के तौर पर शामिल होने को कहा था। उनकी पत्नी को विधानसभा की टिकट का प्रस्ताव पेश किया।

    सिद्धू ने इसे ठुकरा दिया और वह कांग्रेस में शामिल हो गए। जहां वह कैबिनेट मंत्री बने, लेकिन कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ तालमेल न बैठने की वजह से सिद्धू राज्य की सियासत में हाशिए पर चले गए थे लेकिन एक बार फिर अपने ज़माने के इस धुरंधर बल्लेबाज़ ने नयी सियासी पारी के लिए नयी  टीम का चुनाव लगभग कर लिया है।   

    Recent Articles

    Know – Why Central GST organized CYCLOTHON in Sidkul Haridwar ?

    The TAXFIT CYCLOTHON 2021, Cycle rally was organized by Central Goods and Services Tax (CGST) and SIDCUL Manufacturers Association Uttarakhand...

    सेंट्रल GST ने साइक्लोथॉन का सिडकुल हरिद्वार में क्यों किया आयोजन – जानिए

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फिट इंडिया मूवमेंट के तहत केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर (CGST) व सिडकुल मैनुफेक्चरर्स एसोसिएशन, उत्तराखंड द्वारा साइक्लोथॉन...

    त्रिवेंद्र सरकार ने बेटियों के लिए शुरू की ‘‘घरैकि पहचाण चेलिक नाम’’ अभियान

    उत्तराखण्ड  से अभिलाष खंडूड़ी की रिपोर्ट  परम्परागत रीति को नई दिशा...

    उत्तराखंड पुलिस हरिद्वार कुम्भ में भी चलाएगी अनूठी मुहिम “ऑपरेशन मुक्ति “

    उत्तराखण्ड  से अभिलाष खंडूड़ी की रिपोर्ट  उत्तराखंड पुलिस ने...

    शुभ संकेत नहीं है कोरोना गाइडलाइंस का 31 मार्च तक बढ़ना , आपको रहना है सतर्क और सावधान

    उत्तराखण्ड  से अभिलाष खंडूड़ी की रिपोर्ट  कोरोना महामारी से...

    Related Stories

    Leave A Reply

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Stay on op - Ge the daily news in your inbox