Thursday, June 17, 2021
  • Home
  • UTTARAKHAND
  • India
  • Entertainment
  • Sports
  • Rajyo Se
More
    Thursday, June 17, 2021

    मॉर्निंग वॉक करने से नहीं होगा कोरोना, एक्‍सपर्ट की राय में है सुरक्षित सुबह की सैर

    देहरादून से कार्यकारी संपादक आशीष तिवारी की विशेष रिपोर्ट – 

    जब से दुनिया में कोरोना का कहर शुरू हुआ है लोग तरह तरह की भरम और भ्रांतियों में उलझे हुए हैं। एक तर्क ये भी  है कि वायरस हवा में तैरता रहता है। ऐसे में हमने कई  हृदय रोग विशेषज्ञ एवं कोरोना मरीजों की सेवा में लगे तमाम डॉक्टर्स की राय जानी तो उनका दावा है कि वायरस हवा में है इसका मतलब पार्क, सड़क, आंगन और लॉन की हवा से नहीं है। इसका मतलब है कि बंद कमरे में अंजान या घर का व्यक्ति भी संक्रमित हो सकता है।

    उसकी सांस, छींक और थूक आदि से वायरस आप के घर की हवा में रह सकता है। अस्पताल, होटल और सभी बंद जगह इस दायरे में आते हैं। वहां मास्क लगाएं और सावधान रहने की जरूरत है। देखा जा रहा है कि लोग खिड़की दरवाजे बंद कर रहे हैं। छत बालकनी में टहलने से डर रहे हैं। प्रो. सुदीप कहते है कि आराम से खुले में रहें। अकेले हैं तो मास्क न लगाएं, कोई साथ है तो लगा लें।

    खिड़कियां दरवाजे खुले रखना ठीक रहेगा। खिड़की खोलकर सोने से संक्रमण का खतरा नहीं रहेगा। हृदय की बीमारी है तो जो दवा चल रही है उसे बंद न करें। ई ओपीडी में दवा के बारे में सलाह ले सकते हैं। संक्रमण से बचने के लिए अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत रखना जरूरी है। इसके लिए पौष्टिक आहार वह भी बिना तेल घी लें। बाजार में जाने से बचें।

    इस महामारी के दौरान अपने मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर रखें। महामारी के इस दौर में मानसिक तनाव हो सकता है। हो सकता है कि आपको बेचैनी महसूस हो रही हो, आप तनाव महसूस कर रहे हों, परेशान हो रहे हो, इससे बचने के लिए अपनी नई दिनचर्या को व्यावहारिक तरीके से प्लान करें। अपने शरीर का ध्यान रखें. नियमित व्यायाम और खानपान का ध्यान रखें। अपने व्यवहार को अपने नियंत्रण में रखेें। अपने मनोरंजन का भी पूरा ध्यान रखेें।क्योंकि चिकित्सक भी मानते हैं कि शारीरिक मजबूती के साथ साथ लोगों को मानसिक ढृढता रखना भी ज़रूरी है। 

    Recent Articles

    देवभूमि के भगत दा – महाराष्ट्र के महामहिम भगत सिंह कोश्यारी के जन्मदिन पर जानिए कैसा रहा है जीवन सफ़र

    देहरादून से कार्यकारी  संपादक आशीष तिवारी की स्पेशल रिपोर्ट -  उनका हृदय...

    केदारनाथ जलप्रलय की 16 जून की क़यामत भरी रात आज भी दहला देती है

    उत्तराखंड से कार्यकारी संपादक आशीष तिवारी के अनुभव पर आधारित -  साल 2013 में केदारनाथ...

    उत्तराखंड कोचिंग इंस्टिट्यूट एसोसिएशन की एक बैठक रखी गई है,

    आज दिनांक 16/06/2021 को उत्तराखंड कोचिंग इंस्टिट्यूट एसोसिएशन की एक बैठक रखी गई है,जिसमें कोरोना की स्थिति को देखते जैसे सारा...

    दिल्ली: तीसरी लहर पर केजरीवाल सरकार की तैयारी- 5000 हेल्थ असिस्टेंट को दी जाएगी ट्रेनिंग,

    दुनिया के कई देशों में आ चुकी तीसरी लहर और भारत में आने की प्रबल आशंका को लेकर दिल्ली सरकार इन दिनों...

    दौरे पर सरकार – दिल्ली-रामनगर कॉर्बेट इको ट्रेन की सैद्धान्तिक मंजूरी – ऋषिकेश, रुड़की व कोटद्वार में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट के लिए...

    मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने नई दिल्ली में केंद्रीय मंत्री रेल, वाणिज्य एवं उद्योग, उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण  पीयूष गोयल...

    Related Stories

    Leave A Reply

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Stay on op - Ge the daily news in your inbox