Flash Story
देहरादून :  मैक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल लिवर रोगों  को दूर करने में सबसे आगे 
जेल में बंद कैदियों से मिलने के लिए क्या हैं नियम
क्या आप जानते हैं किसने की थी अमरनाथ गुफा की खोज ?
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने भारतीय वन सेवा के 2022 बैच के प्रशिक्षु अधिकारियों को दी बधाई
आग में फंसे लोगों के लिये देवदूत बनी दून पुलिस
आगर आपको चाहिए बाइक और स्कूटर पर AC जैसी हवा तो पड़ ले यह खबर
रुद्रपुर : पार्ट टाइम जॉब के नाम पर युवती से एक लाख से ज्यादा की ठगी
देहरादून : दिपेश सिंह कैड़ा ने UPSC के लिए छोड़ दी थी नौकरी, तीसरे प्रयास में पूरा हुआ सपना
उत्तराखंड में 10-12th के बोर्ड रिजल्ट 30 अप्रैल को होंगे घोषित, ऐसे करें चेक 

किस ग्रह का एक साल 165 वर्षों का , जानिए रहस्य

आप सभी को अब ये मालूम चल चुका है कि चांद का एक पूरा दिन (यानि दिन रात) करीब 28 दिनों का होता है. यानि पृथ्वी का जो एक दिन 24 घंटे का होता है वो यहां पृथ्वी के लिहाज से 672 घंटे का होता है. क्या आपको मालूम है कि दूसरे ग्रहों पर दिन कितने लंबे होते हैं और सबसे लंबा एक दिन किस ग्रह पर होता है.

बुध ग्रह का एक दिन 1408 घंटे के बराबर होता है. इसका मतलब बुध का एक दिन पृथ्वी के 58 दिनों के बराबर होता है. हालांकि ये सौरमंडल का सबसे लंबा दिन नहीं है. बुध वैसे सौरमंडल के आठ ग्रहों में सबसे छोटा और सूर्य का सबसे करीबी ग्रह है. ये सूर्य की परिक्रमा करीब 88 दिनों में पूरी करता है.

शुक्र ग्रह पर दिन सबसे लंबे होते हैं. वहां का एक दिन 5,832 घंटे के बराबर होता है मतलब है कि शुक्र का एक दिन पृथ्वी के 243 दिनों के बराबर होता है. ये सूर्य का दूसरा नजदीकी ग्रह है. ये 224.7 पृथ्वी दिनों मे सूर्य की परिक्रमा करता है. शुक्र का नामकरण प्रेम और सौंदर्य की रोमन देवी पर हुआ है. चंद्रमा के बाद ये रात सबसे चमकता दिखने वाला ग्रह है.

मंगल ग्रह का एक दिन करीब करीब पृथ्वी के एक दिन के बराबर होता है. क्या आप अंदाज लगा सकते हैं कि ये कितने घंटे का होता होगा. ये 25 घंटों का होता है. समझा जा सकता है कि मंगल और पृथ्वी के दिन की लंबाई में बहुत साम्य है. ये मंगल ग्रह ही है, जिसके चक्कर हमारा मंगलयान लगा रहा है. मंगल ग्रह बुध, शुक्र और पृथ्वी के बाद दूरी के हिसाब से सूर्य का चौथा ग्रह है. इसे लाल ग्रह के तौर पर भी जाना जाता है.
04

गुरु ग्रह का आकार प्रकार पृथ्वी से कहीं ज्यादा बड़ा है और इसका एक दिन पृथ्वी के एक दिन की तुलना में आधे से भी कम है. इसका एक दिन 10 घंटे का होता है. इसे बृहस्पति और ज्यूपिटर भी कहते हैं. ये हमारे सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह है. इसका द्रव्यमान सूर्य के हजारवें भाग के बराबर तथा सौरमंडल में मौजूद अन्य सात ग्रहों के कुल द्रव्यमान का ढाई गुना है. बृहस्पति के कुल 95 उपग्रह हैं. ये सूर्य की एक पूरी परिक्रमा 11.86 साल में लगाता है.

शनि ग्रह का एक दिन 11 घंटे का होता है यानि अगर हम शनि पर जाएं तो वहां पृथ्वी के करीब दो दिनों के बराबर उसका एक दिन होगा. शनि सूर्य से छठा ग्रह है और बृहस्पति के बाद सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह है. औसत व्यास में ये पृथ्वी से नौ गुना बड़ा है. शनि और सूर्य के बीच की औसत दूरी 1.4 अरब किलोमीटर से अधिक है. सूर्य के चारों ओर एक पूरा चक्कर लगाने के लिए ये करीब 29.5 साल लेता है.

अब बचते हैं दो और ग्रह. यूरेनस और नेपच्यून. ये ग्रह सूर्य से सबसे ज्यादा दूर के ग्रह हैं. यूरेनस का एक दिन 17 घंटे का होता है तो नेपच्यून का 16 घंटे का. नेपच्यून का द्रव्यमान पृथ्वी से 17 गुना अधिक है. आप हैरान होंगे कि ये ग्रह सूरज की एक पूरी परिक्रमा करने में कितने साल लेता है. जवाब है 164.79 साल.वहीं यूरेनस का एक साल 84 सालों के बराबर होता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top