Flash Story
देहरादून :  मैक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल लिवर रोगों  को दूर करने में सबसे आगे 
जेल में बंद कैदियों से मिलने के लिए क्या हैं नियम
क्या आप जानते हैं किसने की थी अमरनाथ गुफा की खोज ?
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने भारतीय वन सेवा के 2022 बैच के प्रशिक्षु अधिकारियों को दी बधाई
आग में फंसे लोगों के लिये देवदूत बनी दून पुलिस
आगर आपको चाहिए बाइक और स्कूटर पर AC जैसी हवा तो पड़ ले यह खबर
रुद्रपुर : पार्ट टाइम जॉब के नाम पर युवती से एक लाख से ज्यादा की ठगी
देहरादून : दिपेश सिंह कैड़ा ने UPSC के लिए छोड़ दी थी नौकरी, तीसरे प्रयास में पूरा हुआ सपना
उत्तराखंड में 10-12th के बोर्ड रिजल्ट 30 अप्रैल को होंगे घोषित, ऐसे करें चेक 

Mission “हर हाल में लक्ष्य है पाना” – IPS श्वेता चौबे की एक्सपर्ट टीम पुलिस भर्ती परीक्षा के लिए दे रही मुफ्त ट्रेनिंग

विशेष रिपोर्ट – आशीष तिवारीअगर कोई युवा प्रतियोगी किसी परीक्षा की तैयारी करता है तो सबसे पहले उसको ज़रूरत होती है एक बेहतरीन मार्गदर्शक की किस दिशा में कितनी तैयारी करनी है और कहाँ कमियां है , ये प्रशिक्षक ही बेहतर ढंग से बता कर सुधार करवाता है। इसी दिशा में आजकल उत्तराखंड की  चमोली पुलिस पहाड़ के प्रतियोगी युवाओं को उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा उत्तराखंड पुलिस विभाग के अन्तर्गत उप निरीक्षक, मुख्य आरक्षी, आरक्षी संवर्ग के जनपदीय पुलिस, पीएसी/आरबी तथा फायरमैन के पुरुष/महिला की सीधी भर्ती में मददगार साबित हो रही है।ये सब मुमकिन हो रहा है संवेदनशील और युवाओं के लिए प्रेरणा बन चुकी आईपीएस अधिकारी  श्वेता चौबे की पहल से जो इन दिनों  पुलिस अधीक्षक चमोली के पद पर अपनी अहम ज़िम्मेदारी निभा रही हैं।

अपने अनोखे प्रयास और समय समय पर आरम्भ किये जाने वाले जन हितकारी अभियान के लिए जानी जाने वाली आईपीएस श्वेता चौबे  इन दिनों एक और वजह से चमोली में सुर्खियां बटोर रही हैं और वो है उनकी एक शानदार  मुहिम “हर हाल में लक्ष्य है पाना”आपको बता दें कि पहाड़ के युवा वर्ग के लिए पुलिस लाइन गोपेश्वर में नि:शुल्क शारीरिक प्रशिक्षण प्रारम्भ किया गया है । चमोली पुलिस मित्रता,सेवा, सुरक्षा के स्लोगन के साथ सहयोग और सर्मपण की मिसाल पेश कर रही है। इसमें पुलिस भर्ती की तैयारी करने वाले युवाओं को पुलिस विभाग द्धारा नि:शुल्क शारीरिक प्रशिक्षण देकर उनका भविष्य तराशा जा रहा है। जिससे उन्हें अपने करियर को हर मुश्किल से निजात मिले और कामयाबी मिल सके।पुलिस विभाग के प्रशिक्षित अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा शारीरिक परीक्षा के तैयारी और उनका मार्गदर्शन किया जा रहा है कि प्रतियोगी युवाओं को किस प्रकार सफल बनाया जा सके। शारीरिक प्रशिक्षण की व्यवस्था 12 मार्च से शुरू की गयी है जो सुबह 5 बजे से 7:30 बजे तक चल रहा है। इस दौरान चमोली पुलिस और एसपी श्वेता चौबे की निगरानी में पुलिस जवान हर दिन युवाओं को भर्ती के गुर सिखा रहे हैं। चमोली में शुरू किये गए इस ट्रेनिंग सेशन से जहाँ युवाओं को बेहद लाभ मिल रहा है वहीँ पुलिस की इस सहयोगात्मक पहल ने मित्र पुलिस की साख को भी मजबूती दी है। ट्रेनिंग ले रहे युवाओं का कहना है कि अब तक इस प्रकार के प्रयास नहीं हुए है जिससे युवाओं को सही मार्गदर्शन नही मिल पाया हो लेकिन आज चमोली पुलिस और एसपी श्वेता चौबे की मानवीय पहल से उनके सपनो को कामयाबी के पंख लगते नज़र आ रहे हैं। इस प्रशिक्षण शिविर में प्रतिसार निरीक्षक रविकान्त सेमवाल, यातायात उप निरीक्षक दिगम्बर उनियाल, हे0 का0 देवेन्द्र के साथ साथ तमाम पुलिस के कर्मचारी बेहद ख़ास भूमिका निभा रहे हैं। उम्मीद की जानी चाहिए कि आने वाले समय में चमोली पुलिस की ऐसी ही जन हितकारी पहल का अनुसरण और भी जिले की पुलिस करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top