Home उत्तराखंड पतंजलि योगपीठ के जड़ी-बूटी दिवस कार्यक्रम में शामिल हुए राज्यपाल और मुख्यमंत्री

पतंजलि योगपीठ के जड़ी-बूटी दिवस कार्यक्रम में शामिल हुए राज्यपाल और मुख्यमंत्री

न्यूज़ वायरस के लिए सलीम सैफ़ी की रिपोर्ट

राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से.नि.) एवं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी पतंजलि योगपीठ हरिद्वार में आयोजित जड़ी-बूटी दिवस कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर पर उन्होंने संयुक्त रूप से आज़ादी के अमृत महोत्सव के अंर्तगत जड़ी-बूटी एवं आयुर्वेद चिकित्सा पद्धती पर आधारित 75 पुस्तकों का विमोचन एवं 51 नई औषधियों का लोकार्पण किया।

जड़ी-बूटी दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि राज्यपाल ने आचार्य बालकृष्ण को उनके 50वें जन्मदिन की शुभकामनाएं दी और कहा कि आचार्य जी द्वारा अपने जन्मदिवस को जड़ी-बूटी दिवस के रूप में मनाना प्रकृति के संरक्षण के साथ हमारी समृद्धि के लिए अनोखी पहल है। उन्होंने कहा कि पंतजलि योगपीठ ऋषियों की उस परम्परा को आगे बढ़ा रहा है जिसने भारत को ज्ञान, विज्ञान, संस्कृति, अनुसंधान और आध्यात्म के बल पर विश्वगुरू के गौरव तक पहुुंचाया है।उन्होंने कहा कि पतंजलि के विजन में आत्मनिर्भर भारत, बौद्धिक संपदा, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसे विचार और भावनाएं निहित हैं जो वर्तमान समय की मांग है। उन्होंने कहा कि आजादी के 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर जड़ी-बूटी एवं आयुर्वेद चिकित्सा पद्धती पर आधारित 75 पुस्तकों का विमोचन अपने आप में अदभुत है। उन्होंने कहा कि जड़ी-बूटी दिवस लोगों के जीवन में सुख, शांति और समृद्धि की मूल अवधारणा को पुष्ट करने वाली है। भारत ने योग और आयुर्वेद की महान पंरम्परा को आधुनिक रूप दिया है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखण्ड राज्य में नेचुरोपैथी डॉक्टर के रजिस्ट्रेशन जल्द शुरू किए जाने की घोषणा की। उन्होंने आचार्य बालकृष्ण को जन्मदिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा की महान ऋषि परंपरा के अनुगामी, जड़ी-बूटियों के परमज्ञाता और इनका प्रचार-प्रसार कर आयुर्वेद की प्रतिष्ठा बढ़ा रहे आचार्य बालकृष्ण ने आयुर्वेद के क्षेत्र में ऐतिहासिक कार्य किए हैं। आयुर्वेद महज एक चिकित्सा पद्धति नहीं है, इसे एक समग्र मानव दर्शन के रूप में वर्णित किया जा सकता है। आयुर्वेद ऐसी विरासत है जिससे सम्पूर्ण विश्व का कल्याण सुनिश्चित किया जा रहा है।उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान दुनिया ने आयुर्वेद के सिद्धांतों को अपनाया और लाभ पाया। आयुर्वेद जीवन का एक समग्र विज्ञान है, आज दुनिया भर में इसकी स्वीकार्यता है। आयुर्वेद केवल किसी रोगी के उपचार तक सीमित नहीं है बल्कि भारतीय दर्शन में इसे जीवन के मूल ज्ञान के रूप में स्वीकारा जाता है इसलिए इसे पंचम वेद की संज्ञा दी गई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नई कार्यपद्धति का उदय हुआ है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वामी रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने योग और आयुर्वेद को एक नई पहचान दी है। इस दौरान आचार्य बालकृष्ण ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को हर घर तिरंगा अभियान हेतु विभिन्न स्थानों में फहराने हेतु 50 हज़ार राष्ट्रीय ध्वज (प्रतीकात्मक रूप से) भेंट किए।कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद्र अग्रवाल, सुबोध उनियाल, डॉ0 धन सिंह रावत, विधायक प्रदीप बत्रा, स्वामी रामदेव, आचार्य बालकृष्ण, स्वामी दामोदर दास, स्वामी कमल दास, महामंडलेश्वर अर्जुन पूरी एवं अन्य लोग मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

सीएम को सौंपा गया स्थानीय निकायों में अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण का पहला प्रतिवेदन

पंचायती राज मंत्री सतपाल महाराज और सीएम धामी रहे मौजूद उत्तराखंड के स्थानीय निकायों में अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण हेतु एकल सदस्यीय समर्पित आयोग...

डैटोल स्कूल हाईजीन एजुकेशन प्रोग्राम लाएगा परिवर्तन – मुख्यमंत्री

न्यूज़ वायरस के लिए सलीम सैफ़ी की रिपोर्ट मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने डैटोल स्कूल हाईजीन एजुकेशन प्रोग्राम उत्तराखण्ड का शुभारंभ किया। डैटोल स्कूल हाईजीन...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सीएम को सौंपा गया स्थानीय निकायों में अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण का पहला प्रतिवेदन

पंचायती राज मंत्री सतपाल महाराज और सीएम धामी रहे मौजूद उत्तराखंड के स्थानीय निकायों में अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण हेतु एकल सदस्यीय समर्पित आयोग...

डैटोल स्कूल हाईजीन एजुकेशन प्रोग्राम लाएगा परिवर्तन – मुख्यमंत्री

न्यूज़ वायरस के लिए सलीम सैफ़ी की रिपोर्ट मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने डैटोल स्कूल हाईजीन एजुकेशन प्रोग्राम उत्तराखण्ड का शुभारंभ किया। डैटोल स्कूल हाईजीन...

डायबिटीज में दूध में मिलाकर पिएं ये चीजें, ब्लड शुगर हमेशा रहेगा कंट्रोल में

न्यूज़ वायरस लाया है ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के घरेलू उपाय उच्च रक्त शर्करा का स्तर या मधुमेह एक जीवन शैली की...

उधमसिंहनगर में डीएम युगल किशोर पंत की अगुवाई में निकली तिरंगा यात्रा

आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर कलेक्ट्रेट से हर घर तिरंगा अभियान के अन्तर्गत जिलाधिकारी युगल किशोर पंत एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजूनाथ...

तिरंगे का सफरनामा,जानिए तिरंगे के बारे में कुछ अनसुने तथ्य

इस वर्ष हम स्वतंत्रता के 75वें वर्ष को स्वतंत्रता के अमृत महोत्सव के रूप में मना रहे हैं। हर घर तिरंगा अभियान भी शुरू...

दुर्गम इलाकों में स्वास्थ्य व्यवस्था को मजबूत बनाएंगे – डा.आर राजेश कुमार , प्रभारी सचिव , स्वास्थ्य

मिशन निदेशक डा.आर राजेश कुमार ने चमोली दौरे में कई निर्देश दिए उत्तराखंड के स्वास्थ्य प्रभारी सचिव और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मिशन निदेशक डा.आर...

एसबीआई बैंक ने शुरू की यह नई सेवा, जानिए और उठाएं फायदा

अगर बैंकों की बात करें तो देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने न सिर्फ डिजिटलाइजेशन को अपनाया है, बल्कि अब...

क्या आपको पता है माउंट एवरेस्ट से भी ऊंची उड़ान भर सकती हैं मधुमक्खियां

नेशनल ज्योग्राफिक के अनुसार, मधुमक्खियां समुद्र तल से 29,525 फीट ऊपर उड़ सकती हैं। यह दुनिया के सबसे ऊंचे पर्वत माउंट एवरेस्ट से भी...